झाबुआ

कांग्रेसी नेताओं की भाषणों में जुबान फिसलने के कारण सोशल मीडिया पर खूब हो रही किरकिरी

कांग्रेस की सभा में अर्स से लेकर फर्श तक सभी नेताओं की भाषणों में जुबान फिसली झाबुआ में

झाबुआ। जिला कांग्रेस झाबुआ द्वारा विगत 2 दिनों पूर्व आयोजित परिवर्तन सभा जिसको अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष्य राहुल गांधी ने संबोधित किया वहीं मध्य प्रदेश की जिन नेताओं को कमान सौंपी गई। नेता भी झाबुआ कॉलेज ग्राउंड दशहरा मैदान पर आकर के कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने अपने भाषणों से जनता को संबोधित किया। लेकिन कांग्रेस की नैया को पार लगाने वाले महारथी राहुल गांधी से लेकर चुनाव अभियान समिति के प्रमुख ज्यातिरादित्त सिंधिया एवं सांसद कांतिलाल भूरिया की अपने अपने भाषणों में जुबान फिसल पट्टी की माफिक फिसलती साफ़ दिखाई दी। यह दिग्गज नेता अपने भाषणों को लेकर इतने औवर कॉन्फिडेंस थे की यह किसके बारे में क्या बोल रहे हैं इन्हें खुद को पता नहीं था। जिससे इन नेताओं की सोशल मीडिया पर खूब किरकिरी हो रही है। दिन भर महिला पुरुष व बच्चे झाबुआ में हुई कांग्रेस की सभा की वीडियो देख देख कर खूब ठहाके लगाते नजर आ रहा है। भाषणों में फिसलती हुई जुबान के कारण सबसे पहले सांसद कांतिलाल भूरिया की जुबान से यह भाषण सुनने को मिले की राहुल गांधी का बेटा राहुल गांधी आया था जिससे भरी सभा के लोग कांतिलाल भूरिया पर हंसी के ठहाके लेते नजर आए जिससे कांतिलाल भूरिया भाषणों में जुबान फिसलने के कारण सबसे पहले सभा के हंसी का पात्र बने। वहीं दूसरी मर्तबा चुनाव अभियान समिति के प्रमुख ज्यातिरादित्त सिंधिया अपने भाषणों में यह कहते सुनाई दिये कि हमारे लाडे उसके बाद में उन्होंने राहुल लाडले तत्काल कहते सुनाई दिये। जिससे सिंधिया से लेकर कांतिलाल अपनी जुबान फिसलने की पहले ही हंसी का पात्र बन चुके थे आखरी में राहुल गांधी ने अपना भाषणों का दौर जारी रखा वह भी अपनी जुबान भाषणों के कारण अब सुर्खियों में बने हुए हैं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे का नाम पनामा जोड़ते हुए तंज कसा की पनामा पेपर्स मामले में मामा जी के बेटे का नाम सामने आया है चीफ मिनिस्टर के बेटे का नाम पनामा पेपर्स में निकला है तो भी कार्रवाई नहीं हुई, जबकि पाकिस्तान तक के ऐसे लोगों को जेल में डाल दिया जाता है राहुल की भाषणों की जुबान इस कदर चली की मुख्यमंत्री के बेटे कार्तिकेय ने राहुल गांधी पर मानहानि का केस दायर कर दिया। वहीं ताबड़ तोड़ में राहुल गांधी अब सफाई देते फिर रहे हैं राहुल गांधी अपनी सफाई में अब यह कह रहे हैं कि मैं गफलत में पड़ गया और छत्तीसगढ़ के सीएम डॉ रमन सिंह के स्थान पर मध्य प्रदेश के सीएम का नाम ले लिया। भाषणों के जवाबी हमले में कांग्रेसी नेताओं की सोशल मीडिया पर जहां देखो वहां किरकिरी होती दिखाई दे रही है। अब तो यही सुनने में आ रहा है कि कांग्रेसी नेताओं की जुबान फिसल पट्टी की माफिक भाषणों में फिसलती साफ नजर आती है।

31 झाबुआ 2- सभा में भाषणों से सुर्खियों में रहे कांग्रेसी नेता

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close