झाबुआ

‘फसल ऋण माफी योजना‘ के लिए किसान, अपने बैंक खाते आधार से जुड़वा लें-कलेक्टर


झाबुआ 11 जनवरी।
 मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत जिले के किसानों की फसल ऋण माफी हेतु कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में कलेक्टर प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे सहित राष्ट्रीय एवं सहकारी बैंकों के शाखा प्रबंधक एवं शासकीय सेवक उपस्थित थे।

कर्जमाफी योजना के संबंध मे विकासख्ंाड एवं ग्राम पंचायत स्तर पर नियुक्त शासकीय सेवको को 12 जनवरी 2019 को दोपहर 12 बजे से जिले के सभी जनपद मुख्यालय झाबुआ, थांदला, रामा, रानापुर, पेटलावद, मेघनगर जनपद पंचायतो के सभाकक्षो मे प्रशिक्षण दिया जाएगा। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने ग्राम स्तर नियुक्त नोडल अधिकारी, पंचायत सचिव, सहकारी एवं राष्ट्रीयकृत बैंक के प्रतिनिधि, जनपद स्तरीय शासकीय सेवक, उद्यानिकी विभाग, कृषि विभाग, सहकारिता विभाग के शासकीय सेवक एवं हलका पटवारी को प्रशिक्षण मे उपस्थित होने हेतु निर्देशित किया है।

बैठक में कलेक्टर ने बैंकर्स को निर्देशित किया कि 15 जनवरी तक आधार सीडिंग का कार्य सभी बैंक प्रबंधक करना सुनिश्चित करें। सभी बैंक शाखा प्रबंधकों से कहा कि आधार सीडिंग का कार्य शत प्रतिशत हो इसके लिए प्रत्येक बैंक शाखा के बाहर एक बोर्ड लगाकर प्रचार प्रसार करें कि यहां आधार सीडिंग का कार्य किया जा रहा है साथ ही आवश्यक जानकारी भी चस्पा करें जिससे कृषकों को परेशानी ना हो। आधार सीडिंग का कार्य प्रतिदिन अभिप्रमाणन कराना शुरू करें एवं रिकार्ड में दर्ज करना भी सुनिश्चित करें। आधार सीडिंग की प्रक्रिया निरंतर जारी रखते हुए डाटा एन्ट्री का परीक्षण एवं सत्यापन भी सुनिश्चित करें यदि कोई कमी है तो तुरंत सुधार करें। शाखा में आने वाले कृषकों की यदि कोई समस्या है तो उसको नोट करें जिससे कि उसका निराकरण किया जा सके। 15 जनवरी से किसानों से ऋण माफी के लिए आवेदन लिए जायेंगे। इस संबंध में सभी कृषकों को जानकारी देना सुनिश्चित करें।

Show More

Manoj Arora

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close