indorem.p

हर तीन लोकसभा सीट पर खुलेगा एक मेडिकल कॉलेज

     सुपर स्पेशलिटी सेन्टर मालवा क्षेत्र के लिए सबसे बड़ी सौगात-स्पीकर श्रीमती महाजन
                   हर तीन लोकसभा सीट पर खुलेगा एक मेडिकल कॉलेज
        हर बच्चे को अब लगेंगे बारह प्रकार के रोग प्रतिरोधक टीके-स्वास्थ्य मंत्री श्री नड्डा

इंदौर
      एम वाय परिसर में आज लोकसभा स्पीकर श्रीमती सुमित्रा महाजन एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे पी नड्डा द्वारा 850 बिस्तरों वाले सुपर स्पेशलिटी सेन्टर का शिलान्यास किया। इस अवसर पर स्पीकर श्रीमती महाजन ने उपस्थित जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि यह सुपर स्पेशलिटी सेन्टर मालवा क्षेत्र के नागरिकों के लिए केन्द्र सरकार की सबसे बड़ी सौगात है। उन्होंने कहा कि इससे गरीबों के मुफ्त इलाज में मदद मिलेगी। एम वाय अस्पताल ओवर लोडेड है, जिसके कारण व्यवस्था में बाधा उत्पन्न होती है। यह अस्पताल एम वाय अस्पताल का विस्तार है। एम वाय अस्पताल के कायाकल्प में कमिश्नर श्री संजय दुबे की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इसे इंदौर बहुत दिनों तक याद रखेगा। उन्होंने कहा कि कमिश्नर श्री दुबे के विशेष प्रयास से एम वाय अस्पताल में पिछले तीन महीने से बोनमैरो ट्रान्सप्लान्ट सेन्टर भी काम करना शुरू कर दिया है। पिछले 4 वर्षो से प्रायासरत रहने के बाद 200 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाला यह सुपर स्पेशलिटी सेन्टर स्वीकृत हुआ। इस अस्पताल के बनने में मात्र 21 महीने लगेंगे और कुल लागत का 60 प्रतिशत केन्द्र सरकार और 40 प्रतिशत राशि प्रदेश सरकार देगी।
      इस अवसर पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री जे पी नड्डा ने कहा कि देश के जिला अस्पतालों को मेडिकल कॉलेज से जोड़ा जायेगा। तीन लोकसभा क्षेत्र के बीच एक मेडिकल कॉलेज खुलेगा। मध्यप्रदेश में इस वर्ष 7 मेडिकल कॉलेज चालू हो जाएंगे। आने वाले वर्षो में मध्यप्रदेश में तीन और मेडिकल कॉलेज और तीन और सुपर स्पेशलिटी सेन्टर खोले जाएंगे। ये सुपर स्पेशलिटी सेन्टर ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) की तर्ज पर काम करेंगे। उन्होंने बताया कि देश में मेडिकल पीजी की सीटे 30 हजार से बढ़ाकर 54 हजार कर दी गई है। इंदौर में भी यूजी और पीजी की सीटें बढ़ाई गई है। भोपाल और रायपुर में भी सुपर स्पेशलिटी सेन्टर खोला जायेगा। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा टीकाकरण अभियान के तहत सभी बच्चों को टीके लगाये जाएंगे। नीमोनिया और डायरिया सहित 12 प्रकार के टीकें लगाये जाएंगे। कैंसर, एड्स और डायबीटीज का प्राथमिक अवस्था में ही समाधान ढूढ़ा जायेगा।
      भारत सरकार के सचिव स्वास्थ्य श्री सुनील शर्मा ने बताया कि यह सुपर स्पेशलिटी सेन्टर दिसम्बर 2019 तक पूरा हो जायेगा। इसके लिए सभी आवश्यक संसाधन केन्द्र सरकार मुहैया करायेगा। इस अस्पताल में कार्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, मेडिकल गेस्टोइंट्रोलॉजी, सर्जिकल गेस्ट्रोएन्ट्रोलॉजी, काड्रियक सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, यूरो सर्जरी और प्लास्टिक सर्जरी विभाग खोले जाएंगे। यह अस्पताल बेसमेंट और ग्राउण्ड सहित 10 मंजिला होगा। इस अस्पताल को मे0 ब्रिज ऐण्ड रूफ कंपनी इंडिया लि0 बनायेगी। यह मध्यप्रदेश में एक मात्र शासकीय चिकित्सालय होगा, जिसमें उत्कृष्ट स्तर की सुपर स्पेशलिटी चिकित्सकीय सेवाओं के साथ अंग प्रत्यारोपण की भी सुविधा होगी।
      इस अवसर पर आईडीए अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, विधायक सुश्री उषा ठाकुर, श्री राजेश सोनकर, श्री सुदर्शन गुप्ता, कमिश्नर श्री संजय दुबे, आयुक्त चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला, डॉ. बी एस पाल, डॉ. शरद थोरा के अलावा बड़ी संख्या में समाजिक कार्यकर्ता एवं मेडिकल छात्र मौजूद थे।

Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close