अपना MPझाबुआ

विद्यार्थियों के जाति प्रमाण-पत्र बनाने के लिए परिवार के सदस्य का स्थाई जाति प्रमाण-पत्र लगा है तो अन्य दस्तावेज आवश्यक नहीं

झाबुआ 4 अगस्त कलेक्टर श्री बी.चन्द्रशेखर ने आज 4 अगस्त को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में संपन्न समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में विभागवार समयावधि पत्र जनसुनवाई, जनशिकायत जनवाणी की समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिये

    एसडीएम झाबुआ एवं सी एमओ नगरपालिका यह सुनिश्चित करे कि सब्जी बेचने वाले व्यवसायी निर्धारित स्थान पर ही बैठे। एसडीएम एवं नगरपालिका सीएमओं, सब्जी फल बेचने वालो के लिए स्थान निर्धारित कर उन्हें व्यवस्थित स्थान पर बैठाये। एसडीएम यह सुनिश्चित करे  कि तहसीलों में प्रकरण लंबित नहीं रखें जाये प्रकरणो को दर्ज कर समयसीमा में निराकरण करवाये। सभी कार्यालय प्रमुख यह सुनिश्चित करे कि तीन वर्ष से अधिक एक ही शाखा में कार्यरत लिपिक की शाखाएॅ बदले। डायवर्सन के प्रकरण में एसडीएम अपने क्षेत्राधिकार के प्रकरणों का निराकरण स्वयं अपने कार्यालय में ही करे। नगर से संबंधित प्रकरण हो तो ग्राम एवं नगर निवेश विभाग से रिपोर्ट प्राप्त कर निराकरण करे। जाति प्रमाण पत्रों की प्राप्ति को सभी एसडीएम प्रतिदिन मानीटर करे। लोकसेवा केन्द्रो को जाति प्रमाण-पत्र के साथ लगने वाले दस्तावेजों के संबंध में स्पष्ट किया जाये कि यदि बच्चे के परिवार के किसी भी सदस्य का स्थाई जाति प्रमाण पत्र संलग्न है, तो अन्य कोई भी दस्तावेज नहीं लगवाये। जैसे पटवारी का पंचनामा, ग्राम पंचायत/पार्षद की रिपोर्ट इत्यादि दस्तावेज नहीं लगाये। जिसके पास परिवार के किसी भी सदस्य का जाति प्रमाण नहीं है, तभी उसकी जाति को प्रमाणित करने वाला एवं उसके म.प्र. में निवास करने की अवधि का प्रमाण पत्र लगवाये।
    सभी एसडीएम अपने क्षेत्र में छोला छाप डाॅक्टरो पर सतत कार्यवाही करे। सी.एम हेल्पलाइन के प्रकरण प्रतिदिन देखे और निराकरण एक सप्ताह के अंदर करे।
    सभी जिला अधिकारी यह सुनिश्चित करे कि शासकीय सेवको को पात्रतानुसार शासकीय आवास गृह उपलब्घ करवाए जाए एवं शासकीय सेवको के जिनके स्वयं के मकान है उनसे आवास गृह खाली करवाए जाए साथ ही ऐसे अधिकारी/कर्मचारी जिनके स्वयं के मकान हो सूची दी जाए। संघ के सभी पदाधिकारियों एवं प्रतिनिधियों को शासन से प्राप्त निर्देशो की प्रतियां समय-समय पर उपलब्घ कराई जावे। सभी कर्मचारियों को प्रतिमाह वेतनपर्ची देना सुनिश्चित करे। जिले के कर्मचारियों के सेवा अभिलेखों का कोष एवं लेखा पेंशन कार्यालय इंदौर से समय पर अनुमोदन करवाया जाए। समस्त तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की प्रत्येक वर्ष अप्रैल माह में पदक्रम सूची जारी की जावे एवं प्रत्येक कर्मचारी को एक प्रति उपलब्घ कराई जावे। सेवा पुस्तिका में वेतन निर्धारण कराया जावे। सेवा पुस्तिका दो प्रतियों में संधारित की जावे एक प्रति कर्मचारी को उपलब्घ कराई जावे सेवा-पुस्तिका में सभी प्रविष्ठियां की जाकर अधिकारी के समक्ष अवलोकन एवं हस्ताक्षरार्थ रखी जाये। गुमशुदा कटोत्रे के संबंध में वर्ष में दो बार कर्मचारी को मिलान एवं सुधार हेतु महालेखाकार ग्वालियर भेजा जावे। ऐसे शासकीय सेवक जो आगामी 6 माह में सेवानिवृत्त होने वाले है, उनके पेंशन प्रकरण समय पर तैयार किए जाकर जिला कोषालय में प्रस्तुत किए जावे। समस्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के खाते में वर्दी का पैसा जमा किया जावे। संबंधित कर्मचारी द्वारा कपडा खरीदा है और वर्दी सिलवाई है इसकी पुष्टि अधिकारी द्वारा की जावेगी।  बैठक में एडीएम श्री धर्मेन्द्र कुमार सिंह सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।
Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close