जमीन की कीमतें बढ़ रही हैं 15 फीसदी की दर से प्रति वर्ष

0
11

बढ़ोतरी : आगरा रोड पर आवासीय परियोजनाओं में जमीन के भाव एक-डेढ़ साल में 25-50 फीसदी तक बढ़ गए

अनुमान
अभी जयपुर में टोंक रोड के साथ लगे जगतपुरा व मालवीय नगर जैसे इलाकों में आवासीय परियोजनाओं का तेजी से विकास हो रहा है। इसी तरह अजमेर रोड पर जयसिंहपुरा रोड जैसे क्षेत्रों में भी जमीन की कीमतों में दो साल के दौरान अच्छा उछाल देखने को मिला है।

“6000-25000 प्रति गज की रेंज में हो गए हैं जयपुर शहर से दस से पंद्रह किलोमीटर के इलाके में जमीन के भाव

बदलते माहौल और नई सरकार के आने से जयपुर में जमीन की कीमतों में सालाना 10 से 15 फीसदी की वृद्धि का अनुमान लगाया गया है, जो अभी 5.5 से 6 फीसदी के बीच है। दरअसल मेट्रो रेल, बीआरटीएस कॉरिडोर, ऊंची इमारतें, वल्र्ड ट्रेड पार्क, रत्नाभूषणों जैसे उद्योग की वजह से जयपुर में जमीन में निवेश करने वालों की तादाद बढ़ रही है।  

डेवलपर्स का कहना है कि जयपुर के चारों तरफ रिंग रोड बनने के बाद शहर से दूर टाउनशिप में जमीन की खरीद-फरोख्त तेजहोगी।
यह देखते हुए अगले दस साल में उत्तर भारत में चंडीगढ़ के बाद जयपुर दूसरा ऐसा शहर होगा, जहां जमीन-जायदाद की कीमतें आसमान पर होगी। उन्होंने बताया कि दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर से राजस्थान में औद्योगिक विकास तेज होगा। ऐसे में जयपुर का दिल्ली के नजदीक होना निवेशकों को लुभाएगा। इसके अलावा देसी-विदेशी पर्यटकों के पसंद के लिहाज से भी जयपुर देश के दस प्रमुख शहरों में है।
अभी जयपुर में टोंक रोड के साथ लगे जगतपुरा व मालवीय नगर जैसे इलाकों में आवासीय परियोजनाओं का तेजी से विकास हो रहा है। इसी तरह अजमेर रोड पर जयसिंहपुरा रोड जैसे क्षेत्रों में भी जमीन की कीमतों में दो साल के दौरान अच्छा उछाल देखने को मिला है। आलम यह है कि जयपुर शहर से दस से पंद्रह किलोमीटर के इलाके में जमीन के भाव 6000 से 25000 रुपये प्रति गज की रेंज में हो गए हैं।
जिन इलाकों में बुनियादी सुविधाओं का विकास तेज गति से हो रहा है, वहां उसी तेजी से जमीन के भाव बढ़ रहे हैं। इसके चलते सीकर रोड जैसे इलाके में भी निवेशकों का रुझान बढ़ा है। घाट की गुणी में टनल बनने के बाद आगरा रोड पर आवासीय परियोजनाओं में जमीन के भाव एक-डेढ़ साल में ही 25 से 50 फीसदी तक बढ़ गए। आगरा रोड पर बस्सी तक आवासीय योजनाओं का काम तेज हो गया है।
जबकि अजमेर रोड पर पृथ्वीराज नगर व आसपास के इलाकों में नए मकानों का निर्माण तेजी से हो रहा है। दिल्ली रोड पर हीरो मोटर्स व एरिक्सन जैसी कंपनियों के आने से यह एरिया भी चमका है। इस वजह से जयपुर में ठीक-ठाक लोकेशन में में जमीन के भाव 15 से 20 हजार रुपये प्रति गज हो गए हैं।
1 उन्होंने बताया कि दिल्ली, गुडग़ांव व धारूहेड़ा तक में अब उद्योगों की स्थापना के लिए जमीन की कमी हो गई है। इस कारण दिल्ली के उद्यमियों की नजर अब जयपुर पर है, क्योंकि राजस्थान बिजली उत्पादन में लगातार आगे बढ़ा है। साथ ही आईटी व रेडीमेड गारमेंट के क्षेत्र में नए उद्योगों की स्थापना की उम्मीद है। साथ ही शिक्षा संस्थान व अस्पतालों की बढ़ती तादाद बढऩे से भी जयपुर में निवेशकों को रुझान बढ़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here