पत्नी ने लगाई RTI तब पता चला पति ने कर ली है मुंहबोली बहन से शादी

0
7
पत्नी ने लगाई RTI तब पता चला पति ने कर ली है मुंहबोली बहन से शादी!

इंदौर. अब तक सूचना का अधिकार अधिनियम (आरटीआई) का उपयोग लोग सरकारी योजनाओं की जानकारी लेने और भ्रष्टाचार उजागर करने के लिए करते रहे हैं। मध्यप्रदेश के बुरहानपुर  की एक महिला ने अपने पति का सच जानने के लिए इस अधिकार का उपयोग किया है। पत्नी ने सरकारी विभागों में 10 बार आरटीआई में आवेदन लगाए। सालभर तक संघर्ष के बाद जानकारी मिली कि उसके पति ने दूसरी शादी कर ली, उसकी सात महीने की बेटी भी है।

बस इसी आधार पर पत्नी ने अपने ही पति के खिलाफ शिकारपुरा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है, जिसमें कहा गया है कि मेरे पति ने बड़वानी जिले के रानीपुरा में खुद की मुंह बोली बहन से शादी कर ली। जिससे सात माह की एक बेटी भी है। पुलिस ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए पति सहित ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ प्रताडऩा के अलावा पहली पत्नी के रहते दूसरी महिला से शादी करने का केस दर्ज किया है। महिला ने यह शिकायत अपने पति की पूरी जांच पड़ताल के बाद दर्ज कराई है।

सूचना के अधिकार के तहत पुलिस से निकलवाई जानकारी : पति ने दूसरी शादी कर ली है इसके लिए उसे दूसरी पत्नी से हुई बच्ची के जन्म की जानकारी चाहिए थी। प्रिया ने पुख्ता दस्तावेज जुटाने के लिए आरटीआई का सहारा लिया। उसने 4 आवेदन बड़वानी के प्राइवेट अस्पताल में लगाए, लेकिन जानकारी नहीं मिली। 3 आवेदन नगर पालिका बड़वानी में लगाए। 2 बार बड़वानी पुलिस को आवेदन दिया। जानकारी के लिए उसने अस्पातल, नगर निगम के साथ ही पुलिस थाने का भी दरवाजा खटखटाया पर मदद नहीं मिली। इसके बाद पीडि़ता ने एसपी को रजिस्ट्री कर जानकारी के लिए आवेदन किया। एसपी के निर्देश के बाद पुलिस ने उसे आरटीआई के तहत जानकारी देते हुए बताया कि उसके पति ने दूसरी शादी कर ली है और उसे सात माह की एक बेटी भी है। पुलिस ने उसे इसके दस्तावेज भी उपलब्ध करा दिए हैं।पत्नी ने लगाई RTI तब पता चला पति ने कर ली है मुंहबोली बहन से शादी!
मैरिज ब्यूरो के माध्यम से हुआ था विवाह : राजपुरा निवासी प्रिया एक मैरिज ब्यूरो के माध्यम से बड़वानी के विजय मूलचंदानी से मिली थी। 16 मई 2010 को हिंदू रीति रिवाज से दोनों ने बड़वानी में विवाह कर लिया। परिवार वालों ने प्रिया के विवाह के लिए नेपानगर का घर और दुकान बेच दिया था। पति विजय हर रोज रात को देर तक घर के अंदर और छत पर किसी महिला से घंटों बात करता था। विजय का बड़वानी में कटलरी सामान के होलसेल का काम है। बहाना बनाकर वह रिया से मिलने मुंबई भी जाता था।
पति के खिलाफ महिला ने ही जुटाए सारे दस्तावेज : प्रिया ने अपनी सौतन रिया के यहां बच्चा जन्म लेने के बाद बड़वानी थाने में मामले की शिकायत की थी, लेकिन वहां से उसे आदम चेक काटकर रवाना कर दिया गया था। बाद में उसने एसपी सहित अन्य को पत्र लिखा। जांच में सामने आया कि पति विजय को रिया से एक बेटी भी है। प्रिया के पास निजी अस्पताल में उसकी प्रेगनेंसी के दस्तावेज भी हैं। इस पूरे मामले में पति को ससुराल पक्ष का भरपूर सहयोग रहा। शिकारपुरा पुलिस ने पति विजय मूलचंदानी, सौतन रिया विजय मूलचंदानी, सास कविता मूलचंदानी, ससुर गोवर्धन, जेठ राकेश गोवर्धन और ननद किरण गोवर्धन के खिलाफ के केस दर्ज किया। शिकारपुरा थाना प्रभारी अजीत तिवारी ने बताया आरोपियों के खिलाफ धारा 498(दहेज प्रताडऩा) धारा 494(पहली पत्नी के रहते दूसरी पत्नी से शादी) के तहत केस दर्ज किया है।पत्नी ने लगाई RTI तब पता चला पति ने कर ली है मुंहबोली बहन से शादी!
दूसरी पत्नी को घर ले आया तो 2012 में लौट आई प्रिया : शिकायतकर्ता महिला के बेटे संदेश का जन्म होने के बाद उसने पति विजय से उसके दूसरी महिला से संबंध की बात पूछी। पहले तो वह इधर-उधर की बात कर टालता रहा। लेकिन कुछ दिन बाद उसने मुंबई की मुंह बोली बहन रिया से बात करना बताया। जुलाई-अगस्त 2012 में विजय रिया को बड़वानी स्थित घर ले आया। उस दिन भी प्रिया और विजय के बीच जमकर विवाद हुआ। दूसरे दिन प्रिया राजपुरा बुरहानपुर में अपने मायके लौट आई। प्रिया ने बीच में कई बार बड़वानी जाकर हाल जानने का प्रयास किया। लेकिन उसके ससुराल पक्ष के लोग उसे घर नहीं आने दिया।

डाक से सरकारी विभागों को भेजा आरटीआई आवेदन : प्रिया के मुताबिक पति विजय की दूसरी शादी की भनक मुझे लग चुकी थी। लेकिन मुझे पुख्ता दस्तावेज नहीं मिल रहे थे। इसलिए पहले पुलिस को शिकायत की तो आदम चेक काट दिया गया। बाद में रजिस्ट्री से आवेदन बड़वानी थाने और एसपी को भेजा। इसके बाद पुलिस ने जानकारी जुटाकर दी कि विजय ने दूसरी शादी कर ली है। उसकी दूसरी महिला रिया से सात महीने की बेटी भी है।
 नपा में अब भी लगा रखा है आरटीआई : बड़वानी नगर पालिका में प्रिया ने अब भी आरटीआई लगा रखा है। उसने बताया प्राइवेट हॉस्पिटल होने से पहले मुझे रिया और विजय के बच्चे की जानकारी जुटाने में मशक्कत करना पड़ी। लेकिन पुलिस के माध्यम से जानकारी मिल गई। नगर पालिका से भी बच्चे के जन्म की जानकारी मांगी गई। लेकिन चार आवेदन लगाने के बाद भी वहां से जानकारी अब तक नहीं मिली है।


अब जाकर मिला इंसाफ : प्रिया ने रविवार को शिकारपुरा थाना पहुंचकर पति और ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ दहेज प्रताडऩा और पहली पत्नी होते हुए दूसरी शादी करने का केस दर्ज कराया। उसने कहा मुझे अब जाकर इंसाफ मिला है। इससे मैं संतुष्ट हूं। लेकिन चाहती हूं कि ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई भी हो।

ऐसे मिली प्रेरणा : 12वीं तक पढ़ी-लिखी प्रिया के अनुसार टीवी और समाचार पत्रों में आरटीआई के बारे में सुन रखा था। कुछ लोगों ने भी आरटीआई के बारे में बताया। इससे प्रेरित होकर सच जानने के लिए आरटीआई आवेदन लगाया।

महिलाओं को यह दिया संदेश : प्रिया ने कहा महिलाओं को कमजोर नहीं समझा जाए। अगर वे ठान लें कि अपने साथ हुए अत्याचार का इंसाफ लेगी तो उसे कोई रोक नहीं सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here