सफेद प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खे

0
22
सफेद प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खेउज्जैन। वैवाहिक जीवन सुख से भरपूर बनाने के लिए किसी भी पुरुष का शारीरिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ होना बहुत जरूरी है। शरीर में किसी भी प्रकार की कमजोरी होने से वैवाहिक जीवन में समस्याओं को बढ़ावा मिलता है।आयुर्वेद में प्याज को वैसे तो कई बीमारियों में बेहतरीन औषधि माना गया है, लेकिन यौन दुर्बलता और कमजोरी की समस्याओं में यह रामबाण की तरह काम करता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं सफेद प्याज के कुछ ऐसे ही घरेलू नुस्खे जो कमजोरी की समस्या को दूर कर शरीर को ताकतवर बना देते हैं….

– आधा चम्मच सफेद प्याज का रस, आधा चम्मच शहद और आधा चम्मच मिश्री के चूर्ण को मिलाकर सुबह और शाम सेवन करें।

–  एक चम्मच सफेद प्याज के रस में एक चम्मच अदरक का रस मिलाएं। इस मिश्रण में पांच ग्राम घी और पांच ग्राम शहद मिलाकर रोजाना सुबह नियम से एक माह तक सेवन करें। कमजोरी की समस्या दूर हो जाएगी।

– 100 ग्राम अजवाइन को सफेद प्याज के रस में भिगोकर सूखा लें। सूखने के बाद उसे फिर से प्याज के रस में गीला करके सूखा लें। इस तरह से तीन बार करें। उसके बाद अजवाइन को पीसकर किसी बोतल में भर लें। आधा चम्मच इस चूर्ण को एक चम्मच पिसी हुई मिश्री के साथ मिलाकर खाएं।प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खे

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सिर्फ आहार ही पर्याप्त नहीं है, बल्कि पाचन तंत्र भी स्वस्थ होना चाहिए। यदि आपका पाचन तंत्र स्वस्थ नहीं है तो यह भी कमजोरी का एक कारण हो सकता है।


– बॉडी को हेल्दी रखने के लिए नियमित एक्सरसाइज भी बहुत जरूरी है।नियमित एक्सरसाइज करने से तनाव से मुक्ति मिलती है। साथ ही, यह सेक्स लाइफ  का खास टॉनिक है।

–  200 ग्राम लहसुन पीसकर उसमें 60 मिली ग्राम शहद मिलाकर बोतल में भर लें। इस बोतल को किसी भी अनाज में 31 दिन के लिए रख दें। 31 दिनों के बाद इसे 10 ग्राम की मात्रा में 40 दिनों तक लें। इससे यौन शक्ति बढ़ती है।

–  एक ग्राम जायफल का चूर्ण सुबह पानी के साथ सेवन करने से यौन दुर्बलता दूर हो जाती है।प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खे

अनार के छिलकों को सूखाकर पीस लें। प्रतिदिन सुबह और शाम इस चूर्ण को एक चम्मच खाएं। इस प्रकार की परेशानी में आंवले का नियमित सेवन भी बहुत फायदेमंद होता है।

– गाय के दूध में मिश्री मिलाकर पीने से कमजोरी दूर हो जाती है। मलाई व मिश्री मिलाकर खाने से भी नपुंसकता की समस्या दूर हो जाती है।

– चीकू, केला, अनार, आम, नारियल और ताजे फलों के सेवन से यौन दुर्बलता दूर हो जाती है।

– गेहूं, मूंगफली, मूंग इनमें से किसी भी एक को अंकुरित कर भोजन के साथ खाने से कमजोरी दूर हो जाती है।

-100 ग्राम मखाने, 100 ग्राम चोबचीनी, 100 ग्राम ढ़ाक का गोंद, 100 ग्राम मोचरस तथा 250 ग्राम मिश्री को पीसकर चूर्ण बना लें। रोजाना सुबह के समय एक चम्मच चूर्ण में 4 चम्मच मलाई मिलाकर खाएं। इसके नियमित सेवन से नपुंसकता की समस्या खत्म हो जाती है।प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खे

एक सेबफल में जितनी हो सके उतनी लौंग लगा दीजिए। इसी तरह का एक अच्छा सा बड़े आकार का नींबू ले लीजिए। इसमें जितनी ज्यादा से ज्यादा हो सके, लौंग लगाकर दोनों फलों को एक सप्ताह तक किसी बर्तन में ढ़ंककर रख दीजिए। एक सप्ताह बाद दोनों फलों में से लौंग निकालकर अलग-अलग बोतल में भरकर रख लें। पहले दिन नींबू वाली दो लौंग को बारीक कूटकर बकरी के दूध के साथ सेवन करें। दूसरे दिन सेब वाली दो लौंग को पीसकर बकरी के दूध के साथ लें। इस तरह से बदल-बदलकर 40 दिनों तक 2-2 लौंग खाएं। नपुंसकता की समस्या दूर हो जाएगी
 – असगंध और बिदारीकंद को 100-100 ग्राम की मात्रा में लेकर बारीक चूर्ण बना लें। चूर्ण को आधा चम्मच मात्रा में दूध के साथ सुबह और शाम सेवन करें। इसके सेवन से शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है।
– रोजाना रात में थोड़ा सा, आंवले का चूर्ण पानी में भिगो दें। सुबह इस पानी में हल्दी मिलाएं और इस घोल को छानकर पिएं। कमजोरी की समस्या दूर हो जाएगी।

– 4 ग्राम सोंठ, 4 ग्राम सेमल का गोंद, 2 ग्राम अकरकरा, 28 ग्राम पिप्पली तथा 30 ग्राम काले तिल को एक साथ मिलाकर पीस लें। रात को सोते समय आधा चम्मच चूर्ण लेकर ऊपर से एक गिलास गर्म दूध पी लें। यह रामबाण औषधि शरीर की कमजोरी को दूर करती है।

– रात के समय 4-5  बादाम, 2 से 4 अंजीर, नारियल की गिरी, छुहारे, मखाना, चिलगोजे, पिस्ता और 8-10 मुनक्का, इनमें से किसी एक का भी सेवन नियमित रूप से सोने से पहले किया जाए तो राहत मिलती है।प्याज से भी दूर हो जाती है कमजोरी, ये हैं कुछ रामबाण नुस्खे

आधा किलो इमली के बीज लेकर उसके दो हिस्से कर दें। इन बीजों को तीन दिनों तक पानी में भिगोकर रखें। इसके बाद छिलकों को उतारकर बाहर फेंक दें और सफेद बीजों को पीस लें। इसमें आधा किलो पिसी मिश्री मिलाकर कांच के खुले मुंह वाली एक चौड़ी बोतल में भर लें। आधा चम्मच सुबह और शाम के समय में दूध के साथ लें, कमजोरी दूर हो जाएगी।
– 100 ग्राम कौंच के बीज और 100  ग्राम मखाना को पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण में 200 ग्राम मिश्री पीसकर मिला लें। हल्के गर्म दूध में आधा चम्मच चूर्ण रोजाना मिलाकर पिएं, नामर्दी दूर होती है।

– काली मूसली (5-10ग्राम), बादाम (एक या दो), चिरौंजी के दाने (2 ग्राम) और तीन इलायची को मिलाकर पीस लें। रोज रात को सोने से पहले इस चूर्ण को खाएं कमजोरी दूर हो जाएगी।

– चार-पांच छुहारे, दो-तीन काजू और दो बादाम को 300 ग्राम दूध में खूब अच्छी तरह से उबाल लें। इस दूध में मिश्री मिलाकर नियमित रूप से सेवन करें, नपुंसकता दूर हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here