अरबिंदो कॉलेज के सीओओ डॉ. खनूजा को एसटीएफ ने बेंगलुरू में पकड़ा

0
27
अरबिंदो कॉलेज के सीओओ डॉ. खनूजा को एसटीएफ ने बेंगलुरू में पकड़ा
इंदौरप्रीपीजी फर्जीवाड़े में आरोपी अरबिंदो मेडिकल कॉलेज के सीओओ डॉ. जीएस खनूजा को एसटीएफ टीम ने सोमवार को बेंगलुरू में हिरासत में ले लिया। उसे मंगलवार को इंदौर लाकर भोपाल ले जाया जाएगा। एसटीएफ डीएसपी अखिलेश द्विवेदी ने इसकी पुष्टि की है।

इंदौर एसटीएफ की टीम सोमवार को बेंगलुरू पहुंची। वहां पता चला डॉ. खनूजा का बेटा अभिजीत निमहंस अस्पताल में भर्ती है। टीम ने डॉ. खनूजा को अस्पताल के पास से हिरासत में ले लिया। डॉ.खनूजा फर्जीवाड़े में कॉलेज के चेयरमैन डॉ. विनोद भंडारी और जीएम प्रदीप रघुवंशी के साथ था। परीक्षा के एक दिन पहले खनूजा बेटे अभिजीत के साथ छह अभ्यर्थियों को लेकर भोपाल गया था। अभिजीत की प्रीपीजी 2012 में 12वीं रैंक आई थी। वहां नितिन महिंद्रा ने रात में ही उन्हें प्रश्न पत्र दिखा दिया था। जो पास नहीं हुए उनकी उत्तर पुस्तिका में सही उत्तर भर दिए थे।
सुधीर शर्मा को एसटीएफ ने फिर दी मोहलत
व्यापमं परीक्षाओं में गड़बड़ी के आरोपी खनन कारोबारी सुधीर शर्मा को एसटीएफ ने फिर मोहलत दे दी है। अब उन्हें जनवरी के पहले हफ्ते में पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। एसटीएफ लक्ष्मीकांत शर्मा को भी इसी दौरान बुला सकती है।
पुलिस आरक्षक भर्ती में भी दर्ज होगा प्रकरण
भोपाल. मार्च 2013 में व्यापमं के जरिए हुई पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा के मामले में भी एसटीएफ जल्द ही प्रकरण दर्ज करेगी। इस परीक्षा में भी गलत तरीके से आरक्षकों को भर्ती कराए जाने की बात सामने आई है। एसटीएफ ने इसके लिए सबूत जुटाने शुरू कर दिए हैं। रिमांड पर चल रहे व्यापमं के पूर्व परीक्षा नियंत्रक डॉ. पंकज त्रिवेदी और प्रिंसिपल सिस्टम एनालिस्ट नितिन महिंद्रा ने भी बयानों में इसका खुलासा किया है।
उमा का जवाब- मैंने नहीं की कोई सिफारिश- पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने संविदा शिक्षक भर्ती घोटाले में एसटीएफ की ओर से भेजे गए पत्र का जवाब दे दिया है। उमा ने साफ कर दिया है कि गलत तरीके से हुई परीक्षा से उनका कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कोई सिफारिश नहीं की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here