नई दिल्ली.

राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग

राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग

नई दिल्‍ली। युवाओं के लिए मस्‍ती, परिवारों के लिए घूमने और व्‍यापारियों के लिए व्‍यापार की नई उम्‍मीद का मेला‘भारतीय अंतरराष्‍ट्रीय व्‍यापार मेला’ आज से शुरू होने जा रहा है। मेले का उद्धाटन राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी करेंगे। सुबह साढ़े दस बजे प्रगति मैदान के हंसध्‍वनि थियेटर में आयोजित एक कार्यक्रम में राष्‍ट्रपति भारत में व्‍यापार की नई संभावनाओं की उम्‍मीद के साथ मेले का शुभारंभ करेंगे। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता वाणिज्य व उद्योग मंत्री आनंद शर्मा करेंगे। उनके साथ ही दक्षिण अफ्रीका की व्यापार व उद्योग उप मंत्री एलिजाबेथ थवाते भी यहां उपस्थित होंगी। सीआरपीएफ का दुनिया का पहला महिला अर्धसैनिकबल पाइप बैंड मेला स्थल पर अपनी सुरीली धुनों से जनता को लुभाएगा। उद्घाटन समारोह में यह बैंड देशभक्ति के गीतों की धुन बजाएगा।

यह मेले का 33वां संस्‍करण है। फेयर के आयोजक इंडिया ट्रेड प्रमो‍शन आर्गेनाईजेशन (आईटीपीओ) ने इस बार मेले की थीम समावेशी विकास तय की है। मेले में इस बार जापान भागीदार देश और बिहार भागीदार राज्य के तौर पर भाग लेगा। दक्षिण अफ्रीका फोकस देश और ओडिशा फोकस राज्य होगा। इस बार देश और विदेश के 6,000 से अधिक प्रदर्शक अपने नए उत्पाद और निवेश संभावनाओं को प्रदर्शित करेंगे। 21 देशों के करीब 260 प्रदर्शक मेले में भाग लेंगे। चीन, जापान, दक्षिण अफ्रीका, अफगानिस्तान और पाकिस्तान सहित नौ देशों की भागीदारी राष्ट्रीय स्तर के मंडप में होगी जबकि कनाडा, चेक गणराज्य, हांगकांग, इटली, थाइलैंड, नेपाल और म्यांमार का प्रतिनिधित्व उनकी कंपनियों के स्तर पर होगा।
राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग
बिजनेस डेज में व्‍यापारियों के लिए प्रगति मैदान के गेट संख्या 1, 2, 7 और 10 पर टिकट की सुविधाएं उपलब्ध होंगी। यहां से वे टिकट व व्यापारिक कार्ड दिखाकर निशुल्क किट ले सकते हैं। व्यापारियों के लिए टिकट 400 रुपये प्रतिदिन व पूरे सत्र के लिए 1,500 रुपये का होगा। इंडिया ट्रेड प्रमोशन ऑर्गनाइजेशन ने इस मेले की सभी तैयारी पूरी कर ली हैं। केंद्रीय मंत्रालयों, विभागों और राज्यों के मंडपों में मेले की थीम पर फोकस किया जा रहा है। यहां दर्शकों को देसी व विदेशी उत्पादों को देखने और खरीदारी करने का भी मौका मिलेगा।
 राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग
इसके अलावा 31 राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के अपने मंडप होंगे वरिष्ठ नागरिकों और शारीरिक तौर पर अक्षम लोगों को मेले में निशुल्क प्रवेश दिया जाएगा। हालांकि उनके साथ आने वाले सहायक को टिकट खरीदना होगा। आम जनता के लिए व्यापार मेला 19 से 27 नवंबर तक खुलेगा। व्यस्कों के लिए कार्य दिवसों में 50 रुपए और बच्चों के लिए 30 रुपए का टिकट होगा। शनिवार, रविवार और अवकाश के दिनों में यही टिकट क्रमश: 80 से 50 रुपए का मिलेगा। मेले का समय प्रात: साढ़े नौ बजे से लेकर शाम साढ़े सात बजे तक होगा। 
राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग
मेले के लिए टिकट मेट्रो रेल स्टेशनों और आटीपीओ के गेट नंबर एक और दो पर बने काउंटर पर उपलब्ध होंगे। सामान्य कार्यदिवसों में टिकट खिडक़ी शाम चार बजे तक तथा अवकाश के दिनों में दो बजे तक ही खुलेगी। मेला क्षेत्र में प्रवेश प्रात: साढ़े नौ बजे से लेकर शाम साढ़े पांच बजे तक ही करने दिया जाएगा। मेला देखकर लौटने वाले दर्शकों को प्रगति मैदान के हॉल नंबर 12 और 12ए के पास ही मेट्रो के टिकट उपलब्ध होंगे। इंतजाम किया है। इतना ही नहीं बल्कि लोगों की थकान मिटाने के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का महिला बैंड मेला स्थल पर अपनी मधुर धुनों से लोगों का मनोरंजन करेगा। 
राष्‍ट्रपति करेंगे एशिया के सबसे बड़े व्‍यापार मेले का उद्घाटन, 21 देश ले रहे भाग
इसके अलावा दर्शकों के लिए एंड्रायड और ब्लैकबेरी जैसे स्मार्टफोन और वेब पर मेले के बारे में तमाम जानकारियां उपलब्ध होंगी। मेला क्षेत्र में पहुंचते ही इस एप्लीकेशन का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस बार आईआईटीएफ में श्रमिकों और मजदूरों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए जन आहार और जन थाली की शुरुआत की गई है। जनथाली 20 और 30 रुपए में उपलब्ध होगी। यह आहार केवल इटपो में पंजीकृत रेस्त्रां पर ही मिलेगा। राज्यों अथवा विभिन्न देशों के मंडपों में यह उपलब्ध नहीं होगी। 
Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close