पर्यावरण मित्र सम्मेलन हुआ सम्पन्न

0
8

झाबुआ:- 27 अगस्त 13/म.प्र.जन अभियान परिषद् के मार्गदर्षन में नवांकुर योजनान्तर्गत चयनित झाबुआ, रानापुर की स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा नगर के निजी गार्डन मे 100 प्रस्फुटन ग्राम के 1400 समिति कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में पर्यावरण मित्र सम्मेलन का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिला अध्यक्ष सुश्री निर्मला भूरिया व जिला .जिला जन अभियान समिति के उपाध्यक्ष पर्वत मकवाना , मुख्य अतिथि भाजपा संगठन मंत्री संतोष त्यागी , समाज सेवी कल्याण डामोर, प्रवीण सुराना के आतिथ्य में प्रारम्भ हुआ। सर्वप्रथम माॅ भारती के चित्र पर अतिथियों द्वारा माल्यार्पण एवं द्विप प्रज्वलन किया गया। उसके पश्चात् म.प्र. जन अभियान परिषद् के जिला समन्वयक वीरेन्द्रसिंह ठाकुर ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कहा कि समितिया विगत् कई वर्षो से पर्यावरण सहेजने का कार्य कर रही है। पूर्व मे भी रामा, पेटलावद की समितियों को उत्कृष्ट कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया था। यह कार्यक्र्रम भी झाबुआ रानापुर की उत्कृष्ट समितियों को सम्मानित करने के उद्देष्य से पर्यावरण मित्र सम्मेलन का आयोजन किया गया है।
जिला जन अभियान समिति के उपाध्यक्ष पर्वत मकवाना ने अपने उद्बोधन में समितियों की प्रषंसा करते हुए कहा कि समितियों का इस प्रकार निस्वार्थ भाव से कार्य करना सराहनीय है जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि माननीय मुख्यमंत्रीजी का स्वर्णिम म.प्र. का सपना साकार होता दिखाई दे रहा है, साथ ही मै धन्यवाद देता हूॅ सभी समितियों को जो निष्वार्थ भाव से पर्यावरण सहेजने का कार्य कर रही है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही भाजपा जिला अध्यक्ष सुश्री निर्मला भुरिया ने कहा कि समितियों के कार्य व उत्साह को देखकर लगता है कि जो सपना प्रदेष के मुखिया षिवराजसिंह चैहान ने देखा है वह मुर्तरूप ले रहा है निष्चित ही प्रस्फुटन समितिया आओ बनाए अपना म.प्र..के 9 बिन्दूओं पर ग्राम विकास के कार्यो में जन भागीदारी के साथ आदर्ष ग्राम निर्माण में सराहनीय कार्य कर रही है। इस कार्य के लिए सभी समितियों को धन्यवाद् व बधाई । पहले यहा बहुत जंगल हुआ करता था जो अब नही रहा। परन्तु जन अभियान परिषद् ने पर्यावरण सहेजने का जो बीडा उठाया है वह तारिफे काबिल है।
कार्यक्रम के विषेष अतिथि सतोष त्यागी ने कहा कि पर्यावरण के बिगडते स्वरूप को सुधारने के उद्देष्य से समितियों द्वारा प्रस्फुटन वाटिका, स्मृतिव न जैसे प्रयास किए गए है वे आने वाले समय मे पर्यावरण की दृष्टि से सकारात्मक परिणाम के रूप में समाज में दिखाई देंगे। पुरे प्रदेष में प्रस्फुटन समितियाॅ स्वर्णिम म.प्र. के अभियान में निस्वार्थ भाव से कार्य कर रही है इसके लिए यह बधाई के पात्र है। साथ ही उन्होने समितियों के कार्यकर्ताओं को एक भी पेड न कटने देने का प्रण करवाया। सम्मेलन के दौरान वन विभाग के एम.एस. बारोट व कल्याण डामोर एवं प्रवीण सुराना द्वारा भी सम्मानित किया गया। सम्मेलन मे दोनो ब्लाक के उत्कृष्ट सामाजिक कार्य करने वाले कार्यकर्ता मल्लाभाई गुरूजी, श्रीमती सुर्यकान्ता पण्ड्या, मेहताब मावी को साल श्रीफल से सम्मानित किया गया।
    तत्पश्चात् अतिथियों द्वारा झाबुआ रानापुर की 8 उत्कृष्ट समितिया डुंगराधन्ना, माण्डली, भुरीमाटी, वाग्लावाट, पिपलिया, खेडी, बरखेडा, चोरमाण्डली को अपने उत्कृष्ट कार्य करने प्रषस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अतिथियों द्वारा समिति कार्यकर्ताओं के साथ बालक छात्रावास प्रांगण में 10 फलदार पौधों का रोपण भी किया गया। कार्यक्रम में रानापुर एवं झाबुआ ब्लाक की नवांकुर संस्थाए वनांच्चल सांस्कृतिक जागरण शौद्य एवं शिक्षा समिति, सामर्थ सामुदायिक विकास समिति, शिवशंकर ग्रामीण विकास समिति टिकडीमोती, छत्रसाल फाउण्डेशन, समन्वय सामाजिक एवं शैक्षणिक विकास समिति , अमाय ग्रामीण उत्थान समिति, स्व. सुशीला देवी स्मृति शिक्षा समिति, शिखर ग्रामीण उत्थान समिति , स्वामी विवेकानन्द बाल विकास समिति, आदिवासी चेतना शिक्षण समिति का विषेष सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन राजेष पालिया एवं आभार विकासखण्ड समन्वयक दयाराम मुवेल एवं गोपाल पण्ड्या द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here