व्यापार

ज्वैलरी निर्यात में आई गिरावट, सोने का आयात हुआ महंगा

रुपये के मुकाबले डॉलर की मजबूती से सोने का आयात तो महंगा हो गया है। साथ ही, ज्वैलरी निर्यात में भी गिरावट आई है। अंतरराष्ट्रीय बाजार के मुकाबले घरेलू बाजार में सोने की कीमतें ऊंची बनी हुई है। केंद्र सरकार द्वारा 22 जुलाई को सोने के आयात को 80-20 फीसदी कर देने के बाद से सोने का आयात लगभग बंद सा हो गया है।
साथ ही, ज्वैलरी निर्यात में भी भारी गिरावट आई है। पहली जु़लाई से 22 जुलाई तक देश में सोने का आयात 47 टन का हुआ था जबकि उसके बाद से आयात हुआ ही नहीं है। जून महीने में देश से 55.68 करोड़ डॉलर मूल्य की ज्वैलरी का निर्यात हुआ था जबकि जुलाई महीने में 44.14 करोड़ डॉलर की ज्वैलरी का निर्यात ही हुआ है।ज्वैलरी निर्यात में आई गिरावट, सोने का आयात हुआ महंगा
ऑल इंडिया जैम्स एंड ज्वैलरी ट्रेड फैडरेशन (जीजेएफ) के पूर्व अध्यक्ष बछराज बामलवा ने बताया कि डॉलर की मजबूती से सोने का आयात प्रभावित हुआ है। 22 जुलाई के बाद से सोने का आयात हुआ ही नहीं है उल्टा जुलाई में सरकार द्वारा सोने के आयात को 80-20 फीसदी कर देने के बाद से जुलाई के अंतिम दिनों में ज्वैलरी का निर्यात करीब 20 फीसदी घट गया था।
उन्होंने बताया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव शनिवार को 1,397 डॉलर प्रति औंस रहा इस आधार पर घरेलू बाजार में सोने का भाव 27,000 रुपये प्रति दस ग्राम होना चाहिए जबकि शनिवार को यहां सोने का दाम 31,500 रुपये प्रति दस ग्राम रहा। रुपये के मुकाबले डॉलर की मजबूती का सीधा असर उपभोक्ताओं पर पड़ रहा है।
जैम्स एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल के उपाध्यक्ष पंकज पारिख ने बताया कि ज्वैलरी का निर्यात अप्रैल से जुलाई के दौरान करीब 65 फीसदी घटा है। अप्रैल महीने में देश से ज्वैलरी का निर्यात 56.07 करोड़ डॉलर मूल्य का हुआ था जबकि जुलाई में घटकर 44.14 करोड़ डॉलर का रह गया।
उन्होंने बताया कि सोने के आयात पर 10 फीसदी शुल्क और 80-20 फीसदी की पाबंदी लगा देने से जुलाई के अंतिम दिनों में ज्वैलरी निर्यात करीब 20 फीसदी घटा है।
दिल्ली बुलियन एंड ज्वैलर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष वी के गोयल ने बताया कि 6 फरवरी को रुपये के मुकाबले डॉलर 48.68 के स्तर पर था जबकि 23 अगस्त को 63.70 के स्तर पर बंद हुआ है। आगामी दिनों में रुपये के मुकाबले डॉलर में मजबूती अभी कायम रहने की संभावना है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने 22 जुलाई को सोने के आयात को 80-20 फीसदी की दर से कर देने के बाद आयात नहीं हो रहा है।
अप्रैल महीने में देश में 142 टन सोने का आयात हुआ था जबकि मई महीने में आयात 162 टन का हुआ था। उसके बाद से जून महीने में आयात घटकर 31 टन का रहा जबकि पहली जुलाई से 22 जुलाई तक आयात 47 टन का हुआ है।
Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close