भोपालस्थानीय

जोशी दंपती के खिलाफ चालान पेश करने की तैयारी

भोपाल. लोकायुक्त संगठन अगले सप्ताह निलंबित आईएएस अफसर दंपती अरविंद-टीनू जोशी के खिलाफ सरकार से चालान पेश करने की अनुमति मांग सकता है। लोकायुक्त की जांच में दंपती के पास 43.20 करोड़ रुपए की अघोषित आय होने की बात कही गई है।
लोकायुक्त पीपी नावलेकर ने चालान पेश करने की अनुमति मांगने के संगठन के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। संगठन अगले सप्ताह तक राज्य शासन को यह प्रस्ताव भेज सकता है। अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों के खिलाफ चालान की अनुमति देने से पहले राज्य सरकार को केंद्र से अनुमति लेना होगी। चालान पेश होने के बाद संगठन दोनों की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई शुरू करेगा।
यह है जांच रिपोर्ट में
जांच रिपोर्ट के अनुसार जोशी दंपती को निलंबन से पहले तक अपने पूरे सेवा काल में करीब एक करोड़ 30 लाख की आय हुई। इसमें वेतन के अलावा कृषि से हुई आय भी शामिल है। लोकायुक्त की जांच में करीब 44 करोड़ के निवेश की पुष्टि हुई है। यह उनकी वास्तविक आय से 32 गुना अधिक है।
आयकर और लोकायुक्त रिपोर्ट में भारी अंतर
आयकर विभाग ने जोशी दंपती को दिसंबर 2011 में मौजूदा दर पर उन्हें 360 करोड़ रुपए का आसामी बताते हुए 112 करोड़ रुपए से अधिक का आयकर जमा करने का नोटिस दिया था। एक अधिकारी के अनुसार संगठन ने बेनामी संपत्ति को नहीं जोड़ा है। इसके अलावा संपत्ति की वही कीमत जोड़ी गई है जो रजिस्ट्री में है।
परिजनों व अन्य संबंधितों के खिलाफ भी पेश होगा चालान
जोशी दंपती के साथ उनके पिता रिटायर्ड डीजीपी एचएम जोशी के साथ उनकी मां और दोनों बहनों के साथ एसपी कोहली, सीमा जायसवाल आदि के खिलाफ भी चालान पेश किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन ने जोशी दंपती को बर्खास्त करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा था। इस पर अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है।

Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close