jhabuaझाबुआ

आदिवासियों की देश के लिये दी गई कुर्बानियों को भुलाया नही जा सकता है- अमित शाह




सिर्फ भाजपा सरकार ने ही प्रदेश एवं वनवासी अंचल के विकास का कार्य किया- शिवराजसिंह चौहान
भाजपा का विशाल जनजातीय सम्मेलन का हुआ आयोजन

झाबुआ। आज जिस समय जनजातीय सम्मेलन का आयोजन झाबुआ की धरा पर हो रहा है  उसी समय मध्यप्रदेश में 28 नवम्बर को विधानसभा चुनाव की घोषणा हो  चुकी है। इसी वक्त आदिवासी महापुरू विरसा मुंडा, रघुनाथांकर, रानी दूर्गावती, टंट्या मामा आदि आदिवासी पुर्वजों के वांजो के बीच भारतीय जनता पार्टी के इस महासम्मेलन में आप सभी जनजातीय समुदाय के लोंगो को भाजपा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से मिले लाभ एवं  उनके समग्र विकास के लिये मै आपके बीच चौथी बार फिर से मप्र में  शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार बनानें सहयोग करने  का आव्हान करने आया हॅू। मप्र में 55 सालों तक कांग्रेस ने राज्य किया किन्तु न तो प्रदे का विकास हुआ ना ही झाबुआ का विकास हुआ। भाजपा की सरकार आने के बाद आदिवासी अंचल में मुझे मोटरसाईकिल बाईक पर युवाजन दिखे यह सब शिवराजसिंह सरकार की योजनओं से लांभावित होने का प्रतिफल है। 55 साल के शा सन काल में कांग्रेस ने आदिवासियों के विकास के लिये कोई कदम नही उठाए। जब केन्द्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार आयी तब पहली बार आदिवासियों के लिये मंत्रालय की स्थापना की गयी ।हमे गर्व है कि वनो एवं गीरीजनो ने रहने वाले आदिवासी ने यहा की संस्कृति को बनाए रखा है। आदिवासियों की दे के लिये दी गई कुर्बानियों को भुलाया नही जा सकता है। वनवासी अंचल के आदिवासियों ने दे के लिये अपनी जान तक दि है। केन्द्र में पूर्ण बहुमत के साथ नरेन्द्र मोदी की सरकार जो वनवासियों के सहयोग से बनी है के द्वारा आदिवासियों के उत्थान के लिये कदम उठाए है। जिसका लाभ वनवासियों को मिला है।
मप्र में कागेस की सरकार में दिग्विजयसिंह एण्ड कंपनी ने आदिवासियों के विकास के लिये बजट का प्रावधान ही नही किया था। जबकि आदिवासी क्षेत्र के विकास के लिये केन्द्र की मोदी सरकार ने नियत बजट से 30 प्रतिशत अधिक बजट बढाकर, जनजाती क्षेत्रो में खनिज संपदा एवं उनके कल्याण के लिये 18 हजार करोड रूपये हर जिले को दिये है। देश के 115 पिछडे जिलो में 55 वनवासि जिलों के लिये केन्द्र सरकार ने वनबंधु कल्याण योजना लागू की एवं प्रत्येक ब्लॉक को इस प्रयोजन के लिये 10 करोड से ज्यदा राी विकास के लिये देने का काम किया है। माता बहनो की हस्तकला चिजो का मार्केटिंग का कार्य भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रारंभ किया । जनधन, वनधन व गौधन योजनाओ के माध्यम से 30 लॉख लोगो को रोजगार उपलब्ध कराने का कदम उठाया। वही दे के 309 जिलो में इन वर्गो की आय बढाने की योजना का काम भी मोदी सरकार ने किया है। जो ईमली 10-15 रूपये किलो बिकती थी उसके पेस्ट बनाकर आज 400 रूपये किलो में बेचने का बाजार इन लोगो को उपलब्ध हुआ है। वनोपउत्त्पादन पर अधिकतम विक्रय  मुल्य देने का काम भाजपा सरकार ने किया है। और वनोपज ढेड गुना रेट पर मोदी एवं शिवराज सरकार ने खरिदने का काम किया है। उक्त उद्बोधन भारतीय जनता पार्टी के राट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को विशाल जनजातीय सम्मेलन भविय का संदेश समृद्ध मध्यप्रदेश के संदेश को साकार करने हेतु आयोजित धार,झाबुआ व अलिराजपूर एवं बडवानी जिले के जनजातीय वर्ग के लोगो की विशाल आमसभा को संबोधित करते हुये कही।
श्री शाह ने कहा कि शिवराज सरकार ने  गरीब एवं वनवासी लोगों के बीमार होने एवं बडी बीमारी होने पर  उपचार के लिये 5 लाख रूपये तक का व्यय सरकार द्वारा किये जाने की योजना लागू की हे जिसके लिये मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान बधाई के पात्र है । अब कोई भी  बीमार माता बहिन या बुजुर्ग बिना इलाज के नही रहेगें ओर सरकार उसके उपचार की व्यवस्था कर रही है । श्री शाह ने आगे कहा कि कांग्रेस सरकार ने 2003 के बजट मेंं आदिवासी विकास  के लिये मात्र 818 करोड का ही प्रावधान किया था, शिवराजसिंह सरकार के आने के बाद इस प्रयोजन के लिये 25 हजार 818 करोड करने का काम करके 25 हजार करोड की राशि बढा कर विकास के द्वारा  दिये हे । उन्होने के कहा प्रदेश में 15 साल पहले गा्रमीण अंचलों में मोटर साईकिले एवं  मोबाईल आदि का होना अपवाद होता था आज शिवराजसिंह सरकार की योजनाओं के  चलते आदिवासी अंचलों में तेजी से विकास होकर आर्थिक स्तर बढा है ।
श्री शाह ने शिवराजसिंह सरकार द्वारा 40 हजार बालिकाओं के लिये उच्च शिक्षा के प्रबंध किये , 25 एकलव्य स्कूल, 100 छात्रों के लिये आईपीएस आईएएस  की व्यवस्थाकरके 2 लाख से अधिक जनजातिय वर्ग के प्रतिभाालियों को उपर उठाने का काम किया है । केन्द्र की नरेन्द्र मोदी एवं प्रदेश की शिवराजसिंह सरकार  ने गेहू एवं धान की कीमतों में इजाफा किया, किसानों के लिये ढेरो जलाय का निर्माण, 2 लाख 18 हजार किसानों को जमीने के पट्टे देने का काम  किया है । उन्होने ज्योतिआर्दित्य सिंधिया को चुनौति देते हुए कहा कि  कांग्रेस के राज में किसानों के लिये कितना किया उसका व्यौरा बताये ।
भाजपा के  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आगे कहा कि वनविकास के विकास की चिंता सिर्फ भाजपा ही करती है, वनोपज मे महूआ जो किसान एकत्रित करते ळथे उसे व्यापारी लोग ले जाते थे  उसका 30 रूपये किलो का भाव शिवराजसिंह सरकार दे रही है ।भाजपा की सरकार ने प्रदशे में 1 लाख 48 हजार घरों में बिजली प्रदान की है। वही 38 हजार 400 परिवारों को पक्के मकान दिये गये है  ।
श्री शाह ने कहा कि चुनाव का समय है इसलिये  इस अंचल में कांग्रेस के नेता एवं राहूल गांधी भी आयेगें वे भा्रमक एवं झुठे आशवासन देने के अलावा कुछ नही करते है । कांग्रेस की सरकार बनते ही वे भष्रटाचार कर के अपनी कोठिया बनाते है  जबकि भाजपा की सरकार ने सिर्फ विकास के लिये ही धनरााशि खर्च करके प्रदेश को अग्रणी बनाया है। श्री शाह ने कहा कि 28 नवम्बर को चुनाव होने वाले है। भाजपा ने हर वर्ग के विकास के लिये कोई कसर नही  छोडी है । मै आपके बीच इन्ही उपलब्धियों को लेकर  फिर से भाजपा की शिवराजसिंह सरकार बनाने का आपसे वादा लेने आया हूं। आप सबको चौथी बार फिर से भाजपा की सरकार लाना है। शिवराजसिंह चौहान ने  प्रदेश के जनजन के विकास के लिये दिन रात काम किया है। वनवासियों के कल्याण के काम किये है । नरेन्द्र मोदी ने भी आपके कल्याण के लिये कोई कसर बाकी नही रखी है। टंटया मामा, विरसा मुडा, दुर्गावती के बलिदान एवं सम्मान तथा वनवासी कल्याण करने वाली सरकार को फिर से बनाना है वही 2019 में केन्द्र में मोदीजी के नेतृत्व में फिर से भाजपा की सरकार बनाने है।
कालेज मैदान पर हजारों की संख्या में उपस्थित चारों जिलों के  वनावासियों के विाल सम्मेलन को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने भी संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी के  राष्ट्रीय अध्यक्ष अमीत शाह के कुल नेतृत्व में 19 राज्यों में भाजपा की सरकासर बनने का जिक्र करते हुए कांग्रेस के 50 साल के       शासनकाल में  प्रदेश के विकास को रोकने तथा धार, झाबुआ, बडवानी आलीराजपुर को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आने के बाद ही  सडके, बिजली, पानी, की व्यवस्था के साथ गांव गांव में सडकों का जाल बिछाया है । उन्होने कहा कि झाबुआ एवं आलीराजपुर धार में नर्मदा मैया आरही है । आदिवासी बेटे बेटियों के लिये भाजपा की सरकार ने उच्च शिक्षा की व्यवस्था की है आज आदिवासी बच्चे बच्चियो आईआईटी मेडिकल, इन्जिनियरिंग आदि में दाखिला प्राप्त करके उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे है । मुख्यमंत्री ने कहा कि छात्र छात्राओं के लिये ढेरो योजनायें प्रारंभ की है। प्रदेश में पहली बार  आदिवासियों को अधिकार देने के लिये  आदिवासी अधिकार सभा का गठन हुआ है जिसमे गा्रम सभाओं में छाटे बडे  झगडों का निपटारा गा्रम सभाओं में होगा । उन्होने पट्टे बाटने , संबल योजना आदि के माध्यम से इन वर्गो की जिंदगी बदलने का भी जिक्र किया । उन्हो न तडवी पटेलों की इस योजना में अहम भूमिका रहने का भी जिक्र किया ।
इस अवसर पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह ने  स्वागत भाषण देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमीत शाह का अभिनंदन करते हुए भाजपा को ही सर्वहारा वर्ग के विकास की पार्टी बताया ।
विशाल जनजातीय सम्मेलन में फग्गनसिंह कुलस्ते, प्रभारी मंत्री विशवास सारंग, केबिनेट मंत्री अंतरसिंह आर्य, गजेन्द्रसिंह पटेल, श्री नेताम, विजय शाह,रंजना बघेल, कृषण मूरारी मोघे, विधायक निर्मला भूरिया, शांतिलाल बिलवाल, कलसिंह भाबर, जिला भाजपा अध्यक्ष ओमप्रका शर्मा, दौलत भावसार, नागरसिंह चौहान, लीना वर्मा, मालती पटेल, विधायक किरण शर्मा लोकेन्द्र भैया, बाबुसिंह रघुवंशी, नंदकुमारसिंह चौहान, सावित्री ठाकुर, माधोसिंह डावर, नागरसिंह चौहान, वेलसिंह भूरिया,रामप्रसाद नेताम आदि सहित बडी संख्या मे ंचारो जिलों के भाजपा पदाधिकारीगण एवं कार्यकर्तागण उपस्थित थे । कार्यक्रम के अंत में आभार प्र्द्र्रदर्शनर्न विधायक शांतिलाल बिलवाल ने माना । इस अवसर पर धार, आलीराजपुर आदि जिलों के वनवासी कलाकारों ने नृत्य आदि प्रस्तुत किये ।

—————————————————–

Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close