झाबुआ

नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक…….अब मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक के नाम से पहचानी जाएगी…..

झाबुआ -भारत सरकार द्वारा अधिसूचना जारी करते हुए क्षेत्र के विकास एवं जनहित में पूर्ववर्ती नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक एवं पूर्ववर्ती सेंट्रल मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक का सम्मेलन 1 अप्रैल 2019 से करते हुए मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक का गठन किया गया | इसके तहत नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक अब मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक के नाम से पहचानी जाएगी |

इसी कड़ी में सोमवार को मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक के गठन पर ग्राहक सम्मेलन का आयोजन स्थानीय आजाद चौक शाखा पर किया गया | कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय प्रबंधक श्री सुभाष शर्मा व डीआरएम श्री प्रदीप भंडारी थे व आयोजना प्रबंधक रवींद्र व्यास थे |कार्यक्रम की शुरुआत में आजाद चौक शाखा प्रबंधक ओमप्रकाश पाटीदार ने अतिथियों का स्वागत पुष्प मालाओं से किया |इसके अलावा शहर से व्यापारी वर्ग से मयंक पांडे , फिरोज लोधी , अमित जैन आदि ने भी अतिथियों का स्वागत पुष्प मालाओं से किया |व्यापारी संघ से अध्यक्ष नीरज राठौर ने भी अतिथियों का स्वागत पुष्प मालाओं से किया |

डीआरएम प्रदीप भंडारी ने व्यापारी वर्ग को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक , बैंक ऑफ इंडिया द्वारा प्रायोजित होकर मध्य प्रदेश राज्य के 39 जिलों में 14 क्षेत्रीय कार्यालयों एवं 866 शाखाओं के माध्यम से बैंकिंग गतिविधियों का संचालन करेगी |बैंक का प्रधान कार्यालय इंदौर है शाखाओं की दृष्टि से प्रदेश मे, ग्रामीण बैंक प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी बैंक है |

क्षेत्रीय प्रबंधक श्री सुभाष जी शर्मा ने व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारा बैंक देश के सर्वाधिक प्रतिष्ठित ग्रामीण बैंकों में से एक है यह भारत सरकार ,राज्य सरकार और बैंक ऑफ इंडिया का संयुक्त उपक्रम है नवगठित मध्य प्रदेश ग्रामीण बैंक लगभग एक करोड़ से अधिक संतुष्ट ग्राहकों को बैंकिंग सेवाएं प्रदान कर रही है एवं बैंक का निवेश सहित कुल व्यवसाय लगभग ₹ 30,000 करोड है पूर्ववर्ती ग्रामीण बैंकों को राष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं हम आप सभी के सहयोग से व सहभागिता से बैंक को देश का सर्वश्रेष्ठ ग्रामीण बैंक बनाने हेतु प्रतिबंध और दृढ़ संकल्पित है | अगली कड़ी में डीआरएम भंडारी क्षेत्रीय प्रबंधक सुभाष शर्मा ने उपस्थित व्यापारी वर्ग से समस्या बताने व किस प्रकार इस नवगठित बैंक को नई ऊंचाइयों पर ले जाएं इस हेतु सुझाव मांगे |व्यापारी अमित जैन , संतोष प्रधान मयंक पांडे ने आदि ने नेट बैंकिंग सेवा शुरू करने हेतु निवेदन किया |व्यापारी वर्ग से पियूष गादिया ने चेक बुक चार्जेज और पॉकेट चार्जर्स को रेगुलर ग्राहकों से नहीं लेने हेतु सुझाव दिया जिस पर डीआरएम ने आवेदन देने हेतु कहा |वहीं बैंक शाखा व स्टाफ की तारीफ करते हुए लाला भाई शाह ने बताया कि मैं विगत 27 वर्षों से इस बैंक का नियमित ग्राहकों और बैंकिंग स्टाफ पूर्ण रूप से हर काम में सहयोग प्रदान करता है वहीं कुछ व्यापारियों ने अनुभव साझा करते हुए बताया कि कागजी खाना पूर्ति होने के बाद बैंक द्वारा अविलंब लोन स्वीकृत किया जाता है जो अपने आप में बड़ी बात है वहीं व्यापारी संघ के अध्यक्ष नीरज राठौर ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि जिस गति से बैंक द्वारा कागजी खानापूर्ति के बाद मुझे मैरिज गार्डन के लिए लोन स्वीकृत किया है मैं बैंक व स्टाफ को साधुवाद देता हूं और आशा करता हूं कि यह बैंक नित नई ऊंचाइयों को छुए |वहीं व्यापारी संतोष प्रधान ने मेडिकल पॉलिसीज की समस्याओं से अवगत कराया | इसके बाद बैंक द्वारा स्वीकृत होम लोन के स्वीकृति पत्र डीआरएम व क्षेत्रीय प्रबंधक ने आशीष जैन व सचिन जैन को दिए |इसके अलावा मुख्य अतिथियाे ने फिरोज लोधी को कार लोन के अंतर्गत कार की चाबी प्रदान की | वहीं तीन और हितग्राहियों को लोन अंतर्गत वाहनों की चाबी प्रदान की गई | कार्यक्रम का सफल संचालन आजाद चौक ब्रांच स्टॉप से लीना परमार ने किया |आभार प्रदर्शन श्रीमती शांति डामोर ने किया | इस कार्यक्रम के दौरान बैंक स्टाफ से अधिकारी सुभाष नीमा, अखिल त्रिवेदी , दिनकर त्रिवेदी , राजेंद्र मीणा , यतींद्र जैन , श्रीमती शैली जैन , राजेंद्र राठौड़ आदि उपस्थित थे |

Show More

Piyush Gadiya

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close