Deshदेशनई दिल्ली.

सचिन तेंदुलकर और रेखा ने नहीं खर्च किया सांसद निधि से एक भी पैसा

नई दिल्ली. सेलेब्रिटिज पर अमूमन आरोप लगता रहा है कि वे आम आदमी के साथ सहानुभूति का महज दिखावा करते हैं। क्रिकेटर से राज्यसभा सांसद बने सचिन तेंडुलकर और और अभिनेत्री व सांसद रेखा को सांसद बने दो साल हो गए हैं लेकिन मेंबर ऑफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट (एमपीएलएडी) यानी सांसद निधि से दोनों ने अभी तक एक पैसा खर्च नहीं किया है।
इन्होंने एक पैसा खर्च नहीं किया
राज्यसभा सदस्यों को उनके क्षेत्र के रूप में विकास के लिए एक जिले को अपनाना जरूरी होता है। सचिन तेंडुलकर ने मुंबई उपनगरीय को अपने जिले के रूप में अपनाया है, जबकि रेखा ने अभी तक कोई जिला ही गोद नहीं लिया है। संसदीय रिकॉर्ड के मुताबिक, अपने क्षेत्र के विकास के रूप में दोनों ही सांसदों की उपयोगिता शून्य है। 
सरकार के पास कोई प्रस्ताव नहीं भेजा
http://mplads.nic.in के मुताबिक, इन दोनों सांसदों ने अभी तक विकास संबंधी किसी भी तरह का प्रस्ताव सरकार के पास नहीं भेजा है। दोनों की सांसद निधि खाते में 10 करोड़ रुपए की पात्रता राशि अब भी जमा है। गौरतलब है कि प्रत्येक सासंद को हर साल 5 करोड़ रुपये बतौर सांसद निधि दी जाती है।
सांसदों को अपने क्षेत्र में विकास स्थल चिह्नित कर स्थानीय जिला मजिस्ट्रेट या उपायुक्त को एक प्रस्ताव भेजना होता है। इसके तहत वे सड़क, स्कूल भवन, सामुदायिक हॉल, पानी पीने के टैंक स्थापित करने सहित बस स्टॉप का निर्माण करा सकते हैं।
अब तक किसने कितना किया खर्च
1. कर्नाटक से रंगकर्मी बी जयश्री ने 12 करोड़ रुपए खर्च किए।  
2. महाराष्ट्र से शिक्षाविद भालचंद्र मुंगेकर ने 12 करोड़ रुपए खर्च किए।
3. वयोवृद्ध पत्रकार एचके दुआ ने दिल्ली के साउथ नगर निगम में 10.50 करोड़ रुपए खर्च किए।
4. अनु अग्हा ने पुण में 5 करोड़ रुपए खर्च किए।
5. मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने मुंबई उपनगरीय में 4.5 करोड़ रुपए खर्च किए।
6. प्रसिद्ध विधिवेत्ता के पारासरण ने चेन्नई में 2.5 करोड़ रुपए खर्च किए।
7. मृणाल मिरी कामरूप महानगरीय क्षेत्र में 2.5 करोड़ रुपए खर्च किए।
8. अशोक एस गांगुली ने मुबंई सिटी में 5.5 करोड़ रुपए खर्च किए।
9. मणिशंकर अय्यर ने तमिलनाडु के नागपट्टनम में 12 करोड़ खर्च किए।
(इनमें अय्यर और दुआ की उपयोगिता का प्रतिशत क्रमश: 100.50 और 95.52 है)
राज्यसभा का कार्यकाल 6 साल का होता है। अगर कोई सांसद वित्तीय साल में अपनी निधि का उपयोग नहीं करता तो राशि अगले साल के फंड में जुड़ जाती है। ये निधि खत्म नहीं होती। सचिन और रेखा की सांसद निधि खाते में 10-10 करोड़ रुपए जमा हैं। 1 अप्रैल को यह राशि 15 करोड़ हो जाएगी।
Show More

Pradeshik Jan Samachar

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close