झाबुआ

बॉलीवुड अभिनेत्री रिमी सेन ने किया गरबा प्रेमियों का अभिवादन

झाबुआ। 24 अक्टूबर, शरद पूर्णिमा की रात्रि में शहर के ह्रदय स्थल राजवाड़ा पर गरबों का ऐसा रंग जमा, जिसमें हर कोई रम गया। अहमदाबाद (गुजरात) की आर्केस्ट्रा पार्टी द्वारा प्रस्तुति गरबा गीतों, शरद पूनम के गीतों के साथ फिल्मी एवं आधुनिक गीतों का समावेश कर गरबा खेलने वालांं को काफी रोमांचित एवं उत्साहित किया गया।

राजवाड़ा पर सैकड़ों की संख्या में बच्चां से लेकर बड़ों तक ने माताजी की आराधना में गरबे खेले। रात ठीक 11.35 बजे राजवाड़ा के मुख्य मंच पर बॉलीवुड की फेमस हस्ती मुंबई से पधारी रिमी सेन के पहुंचने पर उत्साह ओर बढ़ गया। रिमी सेन ने गरबा पांडाल के अंदर प्रवेश कर बीच में बने मंच से सभी का अभिवादन किया। बाद मुख्य मंच पर पुनः आकर यहां श्री देवधर्म राज नवदुर्गा महोत्सव समिति एवं राजवाड़ा मित्र मंडल द्वारा किए गए 5 विशिष्ट हस्तीयों का सम्मान एवं हिन्दी स्लोगन प्रतियोगिता में विजेता प्रतिभागियों को रिमी सेन के साथ कार्यक्रम के सूत्रधार एवं जिले के वरिष्ठ समाजसेवी बृजेन्द्र चून्नू शर्मा तथा सुरेशचन्द्र जैन पप्पू भैया के आतिथ्य में पुरस्कार प्रदान किए गए।

राजवाड़ा पर बुधवार रात 8.30 बजे जोरदार आतिश्बाजी के साथ गरबों की शुरूआत हुई। रंगांरग आतिश्बाजी श्री देवधर्म राज नवदुर्गा महोत्सव समिति की ओर से अंकुश कांठी एवं उनकी युवा टीम द्वारा की गई। 9 बजे से यहां गरबों का रंग जमना शुरू हुआ। गरबा पांडाल में लोक रंग झाबुआ के युवा कलाकारों ने गुजराती वेशभूषा में सजकर गरबों की आकर्षक प्रस्तुति देना प्रारंभ किया। करीब 1 घंटे तक उनके राजवाड़ा पांडाल पर गरबे प्रस्तुत करने के बाद 10 बजे से शहर के युवक-युवती एवं बालक-बालिकाओं के साथ महिलाएं भी चटकिले तथा एक जैसी परिधान पहनकर गरबा खेलकर पूरे राजवाड़ा के सौंदर्यमान को बढ़ाया। रात 11 बजे दूधिया रोशनी से जगमग राजवाड़ा सैकड़ों गरबा प्रेमियों की भीड़ से खचाखच भर गया। आंनद और उल्लास के साथ सभी ने गरबे खेलने का आनंद लिया। इस बीच आतिश्बाजी का दौर सत्त चलता रहा। इसके साथ ही गरबा खेलने वाले पर रंग-बिरंगी फूलों एवं पन्नीयों की भी बौछार कर उनका उत्साहवर्धन किया गया। गरबा इतनी रात में भी लोग घरों से बाहर निकलकर गरबा खेलने के साथ मेरी एक झलक पाने के लिए उत्सुक है। इस दौरान उन्होंने राजवाड़ा के इस शानदार आयोजन की प्रसंशा करते हुए इस हेतु मुख्य आयोजक बृजेन्द्र चून्नू शर्मा के प्रति आभार व्यक्त किया। साथ ही अपनी प्रसिद्ध फिल्म हेराफेरी का डायलोग ‘10 रू. के छुट्टे नहीं है’ की एक्टींग कर भी दर्शकों को लुभाया। मंच से उतरने के बाद युवाओं से हाथ भी मिलाया।

सेल्फी लेने एवं फोटो लेने के लिए मची होड़

इसी बीच रिमी सेन के मुख्य मंच पर पहुंचने पर उनके साथ सेल्फी लने एवं फोटो लेने के लिए हर केई लालायित दिखाई दिया। रिमी सेन का पुष्प गुच्छ भेंटकर भावभरा स्वागत इस दौरान राजवाड़ा मित्र मंडल के संरक्षक बृजेन्द्र चून्नू शर्मा ने अपनी धर्मपत्नी एवं परिवारजनों के साथ करने के साथ मेघनगर से पधारे वरिष्ठ समाजसेवी सुरेशचन्द्र जैन पप्पू भैया एवं उनकी धर्मपत्नि तथा परिवारजनो ने भी रिमी सेन का पुष्प गेच्छ भेंटकर अभिनंदन किया। इसके साथ ही इस दौरान आयोजक समिति के जितेन्द्र पटेल-चेतना पटेल, अजय सोनी-दीपा सोनी, पंकज चौहान, भावेश सोलंकी भाऊभाई, सचिन बैरागी, अंकुश कांठी, बहादुर भाटी सहित अन्य सभीजनों द्वारा भी अपने परिवारजनों सहित रिमी सेन का स्वागत कर उनके साथ फोटो खींचवाकर साथ में सेल्फी भी ली। मंच के सामने भी रिमी सेन के फोटो लेने के लिए युवाओं में होड़ मची रहीं।

महाआरती कर महाप्रसादी वितरित की गई

रात 12 बजे श्री देवधर्मराज मंदिर में माताजी की महाआरती हुई। पष्चात् महाप्रसादी के रूप में 7 क्विटल केषरिया ड्रायफु्रटस युक्त दूध का सभी भक्तों का वितरण किया गया। महाआरती का लाभ जहां सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने लिया वहीं महाप्रसादी प्राप्त करने के लिए भी भक्तजनों की लंबी कतारे लगी। अंत में आभार राजवाड़ा मित्र मंडल के सचिव अजय सोनी ने माना।

Show More

Manoj Arora

प्रादेशिक जन समाचार स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा मंच है। यहां विभिन्न समाचार पत्रों/टीवी चैनलों में कार्यरत पत्रकार अपनी महत्वपूर्ण खबरें प्रकाशन हेतु प्रेषित करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close